Home Health & Fitness बारिश में बढ़ जाता है डेंगू, मलेरिया समेत 5 बीमारियों का खतरा,...

बारिश में बढ़ जाता है डेंगू, मलेरिया समेत 5 बीमारियों का खतरा, अपनाएं डॉक्टर के बताए टिप्स. हमेशा रहेंगे हेल्दी

97
0

हाइलाइट्स

बारिश में डायरिया और पेट के अन्य इंफेक्शन का खतरा बढ़ जाता है.
मच्छरों के काटने से डेंगू, मलेरिया समेत कई बीमारियां फैलने लगती हैं.

बरसात के मौसम में सबसे आम बीमारियाँ: बारिश के मौसम में बीमारियों की बरसात भी देखने को मिलती है. जगह-जगह पानी भरने और गंदगी होने से मच्छरों का प्रकोप बढ़ जाता है. साथ ही बैक्टीरियल और वायरल इंफेक्शन तेजी से फैलने लगते हैं. यह मौसम सेहत के लिए बेहद चुनौती भरा होता है. बरसात में स्वस्थ रहने के लिए लोगों को काफी मशक्कत करनी पड़ती है. राजधानी दिल्ली समेत कई राज्यों में बाढ़ जैसे हालातों ने बीमारियों का खतरा और भी ज्यादा बढ़ा दिया है. हेल्थ एक्सपर्ट्स ने आशंका जताई है कि इन जगहों पर डेंगू, मलेरिया चिकनगुनिया और मच्छरों से होने वाली बीमारियों का कहर देखने को मिल सकता है. ऐसे में डॉक्टर से यह जानने की कोशिश करेंगे कि इस मौसम में बीमारियों से कैसे बचा जा सकता है.

नई दिल्ली के सर गंगाराम हॉस्पिटल के प्रिवेंटिव हेल्थ एंंड वेलनेस डिपार्टमेंट की डायरेक्टर डॉ. सोनिया रावत के मुताबिक बारिश के मौसम में वायरल और बैक्टीरियल इंफेक्शन तेजी से फैलता है. बरसात में जगह-जगह पानी भर जाता है, जिससे मच्छरों का कहर बढ़ जाता है. मच्छरों की वजह से डेंगू, मलेरिया, चिकनगुनिया फैलने का खतरा बढ़ जाता है. इसके अलावा गंदा पानी पीने से टाइफाइड, डायरिया (पेट के इंफेक्शन) के मामले भी सामने आते हैं. इस मौसम में वायरल बुखार और सर्दी-जुकाम के मामले भी बढ़ जाते हैं. जिन जगहों पर बाढ़ जैसे हालात हैं, वहां सबसे ज्यादा बीमारियां फैलने का खतरा है. ऐसे में सभी को साफ पानी पीना चाहिए और ताजा खाना ही खाना चाहिए. इस मौसम में मच्छरों से बचने की सबसे ज्यादा जरूरत है. बरसात में सावधान रहकर ही आप बीमारियों से बचाव कर सकते हैं.

बारिश में बीमारियों से ऐसे करें बचाव

– डॉ. सोनिया रावत के अनुसार इस मौसम में मच्छर और बरसाती कीड़ों से बचाव करना सबसे जरूरी है. सोत वक्त मच्छरदानी लगानी चाहिए और एंटी-मॉस्किटो क्रीम या ऑयल का प्रयोग करना चाहिए. इससे आपको डेंगू, मलेरिया और चिकनगुनिया का खतरा कम हो सकता है.

– बरसात में घर से निकलते वक्त सभी लोगों को पूरी आस्तीन वाले कपड़े पहनने चाहिए. घर के अंदर और आसपास रखे गमलों और अन्य जगहों पर बारिश का पानी जमा न होने दें. साथ ही कूलर का पानी भी समय-समय पर बदलते रहें. इससे मच्छरों से बचाव हो सकेगा.

यह भी पढ़ें- हाई कोलेस्ट्रॉल को जड़ से खत्म कर सकते हैं 3 हरे पत्ते, पोषक तत्वों का हैं भंडार, सेहत कर देंगे दुरुस्त

– इस मौसम में जंक फूड से बिल्कुल दूरी बना लें. घर पर बना ताजा खाना ही खाएं. बासी खाने का सेवन नहीं करना चाहिए. साफ पानी पिएं. इससे आपके टायफाइड होने का जोखिम कम हो सकेगा और पेट के इंफेक्शंस से भी बचाव होगा.

– बारिश में अपनी डाइट में अदरक, लहसुन और नींबू को शामिल करना चाहिए, जिससे इम्यूनिटी मजबूत होती है और मेटाबॉलिज्म इंप्रूव हो जाता है. इस मौसम में गर्म चीजें खानी चाहिए और ठंडी चीजों से परहेज करना चाहिए. ताजा फलों और सब्जियों का ही सेवन करना चाहिए.

यह भी पढ़ें- सेहत के लिए रामबाण है यह मीठा फल, शुगर-बवासीर समेत 5 बीमारियों से दिलाएगा राहत, शरीर में भर देगा एनर्जी

– बुखार आने पर पैरासिटामोल लेनी चाहिए और अगर उससे फायदा न मिले, तो डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए. किसी भी तरह की लापरवाही नहीं बरतनी चाहिए, वरना स्थिति काफी गंभीर हो सकती है.

टैग: डेंगी, स्वास्थ्य, जीवन शैली, मलेरिया, बरसात का मौसम, ट्रेंडिंग न्यूज़

(टैग्सटूट्रांसलेट)भारत में बरसात के मौसम में होने वाली बीमारियाँ(टी)बरसात के मौसम में सबसे आम बीमारियाँ(टी)बरसात के मौसम में बीमारियाँ और रोकथाम(टी)क्या बरसात के मौसम में बीमारी होती है(टी)बरसात के मौसम में होने वाली बीमारियाँ(टी)बरसात के मौसम में डेंगू का खतरा(टी)मानसून में डेंगू से कैसे बचें(टी)बरसात के मौसम में मलेरिया से बचने के उपाय(टी)बरसात के मौसम में कौन सी बीमारी होती है(टी)बारिश के मौसम में बीमारियों से कैसे बचें(टी)सबसे आम मानसून की बीमारी क्या है(टी)बारिश के मौसम में मच्छर जनित बीमारियाँ (टी) बरसात के मौसम में मलेरिया आम क्यों है (टी) मानसून के दौरान जलजनित रोग क्यों होते हैं (टी) हम मानसून की बीमारियों को कैसे रोक सकते हैं (टी) बारिश में कौन सी बीमारियां होती हैं (टी) बारिश में जीवित रहने के टिप्स

Source link

Previous articleसंसद सत्र से पहले बोले PM मोदी- मणिपुर की घटना शर्मसार करने वाली, दोषियों को नहीं छोड़ेंगे
Next articleIND vs WI: पोर्ट ऑफ स्‍पेन में अश्विन के पास कई रिकॉर्ड बनाने का मौका, क्‍या करेंगे मुरली की बराबरी?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here