Home India सहरसा में ‘मौत की सड़क’, इन 11 ब्लैक स्पॉट पर इस साल...

सहरसा में ‘मौत की सड़क’, इन 11 ब्लैक स्पॉट पर इस साल 64 लोगों ने गंवाई जान, यहां देखें लिस्‍ट

36
0

मो.सरफराज आलम/सहरसा. अगर आप सहरसा जिले में प्रवेश करते हैं और आप ब्लैक स्पॉट पर अपनी गाड़ी की गति को धीमी नहीं करते हैं, तो आप एक बड़ी दुर्घटना के शिकार हो सकते हैं. दरअसल जिले के विभिन्न थाना क्षेत्रों में पिछले 2 वर्षों में सड़क दुर्घटनाओं में बेतहाशा वृद्धि हुई है. इसे देखते हुए जिला प्रशासन ने एहतियातन कदम उठाना शुरू कर दिया है. सड़क दुर्घटनाओं को रोकने के लिए जिले के कुल 11 जगहों को ब्लैक स्पॉट के रूप में चिन्हित किया है. यह शहरी क्षेत्र में 200 मीटर, अर्द्ध शहरी क्षेत्र में 400 मीटर और ग्रामीण क्षेत्र में 600 मीटर को कवर करती है. मापदंड के अनुसार जहां 10 से कम, लेकिन दो या अधिक घटनाएं हुई हैं, उस जगह को ब्लैक स्पॉट के रूप में चिन्हित किया गया है.

आपको बता दें कि सदर थाना क्षेत्र के मत्स्यगंधा झील, सिमरी बख्तियारपुर के नंदन मेडिकल के समीप मोड़, सोनवर्षा प्रखंड के प्राथमिक विद्यालय साहमोरा से विजेंद्र यादव के घर तक, सोहा दो नंबर के समीप, बनगांव के बरियाही बाजार से पेट्रोल पंप तक, बिहरा के सिहौल मोड़ से सिहोल चौक तक, रहुआ मोड़ के दोनों दिशा में महिषी थाना क्षेत्र, मिडल स्कूल पस्तपार से पस्तपार चौक तक, कोसी पुल कोपरिया जाने वाली रोड में पुल के आगे-पीछे तक और जलई के गंडोल चौक से जुम्मा चौक के मोड़ तक को ब्लैक स्पॉट के रूप में चिन्हित किया गया है.

इस साल हादसे में गई 64 लोगों की जान
आपको बता दें कि वर्ष 2023 में कुल 64 लोगों की हादसे में मौत हुई है. इसमें जनवरी में हुई 10 दुर्घटना में 9 लोगों की मौत हो गई. जबकि फरवरी में 8, मार्च में 10, अप्रैल में 10 , मई में 16 और जून में 11 लोगों की मौत हुई. वहीं, वर्ष 2022 के आंकड़े के अनुसार जिस जगह को ब्लैक स्पॉट के रूप में चिन्हित किया गया है, उस जगह पर हुई दुर्घटनाओं में 25 लोगों की मौत हुई थी. इसके अलावा 23 व्यक्ति जख्मी हुए थे.

35 जगहों पर लगेगी रेड लाइट
सहरसा के यातायात प्रभारी नागेंद्र राम ने बताया कि लोगों में जागरूकता फैलाने के लिए लगातार हेलमेट चेकिंग अभियान भी चलाया जा रहा है. अधिकांशतः मोड़ पर सड़क दुर्घटना होती है. इसके लिए 35 जगहों पर रेड लाइट का प्रस्ताव भेजा गया है.

टैग: स्थानीय18, सड़क दुर्घटनाएं, यातायात विभाग, यातायात पुलिस, ट्रैफ़िक नियम

Source link

Previous articleजोधपुर पर घिरी गहलोत सरकार: बीजेपी हुई हमलावर, पूनावाला ने जमकर कसे तंज, विधानसभा में हंगामा
Next articleसियाचिन ग्लेशियर में सेना के टेंट में आग से अफसर की मौत, 3 जवान घायल

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here