Home India Seema Haidar News: क्या ISI की जासूस है सीमा हैदर? पाकिस्तान की...

Seema Haidar News: क्या ISI की जासूस है सीमा हैदर? पाकिस्तान की खुफिया एजेंसियों ने सरकार को सौंपी रिपोर्ट

31
0

लाहौर. पाकिस्तान से अपने चार बच्चों को लेकर सचिन मीणा के पास ग्रेटर नोएडा पहुंची सीमा हैदर (Seema Haidar) को लेकर चर्चा का दौर जारी है. सीमा हैदर जिस तरह से नेपाल के रास्ते भारत में अवैध ढंग से दाखिल हुई उसे लेकर कई लोग शक जता रहे हैं कि कहीं वह पाकिस्तान की जासूस तो नहीं. ऐसे में अब पाकिस्तान की खुफिया एजेंसियों ने सरकार को भी इस बारे में सूचित किया है. सोमवार को पाकिस्तानी मीडिया की एक रिपोर्ट में बताया गया कि ‘प्यार ही वह ‘एकमात्र’ फैक्टर है जिसके कारण चार बच्चों की मां एक हिंदू व्यक्ति के साथ रहने के लिए भारत पहुंच गई.’

सिंध प्रांत के कराची की रहने वाली सीमा गुलाम हैदर और भारत में रहने वाले सचिन मीणा 2019 में पबजी खेलते समय संपर्क में आए थे. उत्तर प्रदेश पुलिस के अनुसार, 30 वर्षीय सीमा और 22 वर्षीय सचिन दिल्ली के पास ग्रेटर नोएडा के रबूपुरा इलाके में रहते हैं, जहां सचिन किराने की दुकान चलाता है.

‘भारत भागने का कोई दूसरा कारण नहीं मिला’
स्थानीय उर्दू दैनिक ‘जंग’ ने पाकिस्तानी खुफिया एजेंसियों की एक रिपोर्ट के हवाले से कहा, ‘पाकिस्तानी महिला सीमा हैदर ने केवल प्यार के कारण एक भारतीय व्यक्ति (सचिन मीणा) से शादी करने के लिए देश छोड़ा, क्योंकि अभी तक कोई अन्य कारण/मकसद सामने नहीं आया है.’

खबर में कहा गया, ‘पाकिस्तानी खुफिया एजेंसियों की रिपोर्ट के अनुसार, देश छोड़ने की वजह हिंदू भारतीय व्यक्ति से ‘प्यार’ के अलावा कोई और नजर नहीं आता. रिपोर्ट सरकार को सौंप दी गई है.’

ये भी पढ़ें- ‘अभी भी प्‍यार करता हूं’- सीमा हैदर के पति गुलाम ने की पाकिस्‍तान लौट आने की अपील

सीमा को 7 साल से कम उम्र के अपने चार बच्चों के साथ नेपाल के रास्ते बिना वीजा के अवैध रूप से भारत में प्रवेश करने के आरोप में चार जुलाई को गिरफ्तार किया गया था. वहीं सचिन को भी अवैध अप्रवासियों को शरण देने के लिए सलाखों के पीछे डाल दिया गया था. बाद में दोनों को जेल से रिहा कर दिया गया.

कट्टरपंथियों ने हिंदू पूजा स्थलों पर हमले की दी धमकी
इस मामले पर अपने मदरसे का इस्तेमाल हिंदू लड़कियों का धर्मांतरण कराने और यहां तक कि डाकू बनाने में करने के लिए कुख्यात ग्रामीण सिंध के धार्मिक नेता मियां मिट्ठू ने खुले तौर पर सीमा को वापस लौटने पर दंडित करने की धमकी दी है. उनके समर्थकों ने सीमा के गांव में हिंदू पूजा स्थलों पर हमला करने की भी धमकी दी है.

इस बीच रविवार को सिंध में राधा स्वामी दरबार मंदिर पर हमले की खबरें आईं. ‘जैकबाबाद जनरल हिंदू पंचायत’ के अध्यक्ष लालचंद सीतलानी और अन्य पदाधिकारियों ने हमले की निंदा की है. वहीं पाकिस्तान के मानवाधिकार आयोग (HRCP) ने काशमोर और घोटकी में ’30 हिंदुओं के अपहरण की रिपोर्ट’ पर चिंता व्यक्त की है.

आयोग ने रविवार को एक ट्वीट में कहा, ‘एचआरसीपी काशमोर और घोटकी में बिगड़ती कानून व्यवस्था की खबरों से चिंतित है, जहां महिलाओं और बच्चों सहित हिंदू समुदाय के लगभग 30 सदस्यों को संगठित अपराध गिरोहों द्वारा बंधक बना लिया गया है.’

एचआरसीपी ने कहा, ‘इसके अलावा, हमें परेशान करने वाली खबरें मिली हैं कि इन गिरोहों ने उच्च श्रेणी के हथियारों का उपयोग करके समुदाय के पूजा स्थलों पर हमला करने की धमकी दी है. सिंध गृह विभाग को तुरंत इस मामले की जांच करनी चाहिए और इन क्षेत्रों में सभी संवेदनशील नागरिकों की सुरक्षा के लिए कदम उठाने चाहिए.’

टैग: आईएसआई, पाकिस्तान, सीमा हैदर

Source link

Previous articleपठानकोट एयरफोर्स परिसर में महिला स्‍क्‍वाड्रन लीडर पर धारदार हथियार से हमला, मेस का सेवादार गिरफ्तार
Next articleभारत-पाक क्रिकेट मैच का इंतजार खत्म! 19 जुलाई को होगी टक्कर, नंबर-1 बनने की जंग

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here