Home India राहुल गांधी ने खेत में धान रोपी, ट्रैक्टर चलाया, किसान महिलाएं बोलीं-...

राहुल गांधी ने खेत में धान रोपी, ट्रैक्टर चलाया, किसान महिलाएं बोलीं- अपना घर दिखाओ तो यह दिया जवाब- देखें Video

45
0

हाइलाइट्स

8 जुलाई को हरियाणा के सोनीपत स्थित मदीना गांव के खेतों में गए थे राहुल गांधी
इस दौरान राहुल गांधी चारपाई पर किसानों के साथ खाना खाते भी दिखे
राहुल बोले- किसान की ‘तपस्या’ को वह सम्मान नहीं मिलता, जिसका वह हकदार है

नई दिल्ली. कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने खेतों में ट्रैक्टर चलाते, धान रोपते और किसानों से बातें करते हुए एक और वीडियो जारी किया है. इसमें वह किसानों के घर पर खाना खाते हुए भी दिख रहे हैं. उन्होंने अपने ट्विटर पर जो वीडियो शेयर किया है, वह हरियाणा के सोनीपत के खेतों का है. इसमें राहुल गांधी किसानों के साथ खेतों में काम करते भी दिख रहे हैं. कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने रविवार को कहा कि किसान भारत की ताकत हैं और उनके दृष्टिकोण को सुनकर और समझकर देश में कई मुद्दों का समाधान किया जा सकता है. वह आठ जुलाई को हरियाणा के सोनीपत में स्थित मदीना गांव के खेतों में गए थे.

राहुल गांधी ने लगभग 12 मिनट के यूट्यूब वीडियो में किसानों और उनके परिवारों के साथ उनकी बातचीत, खेतों की जुताई, धान के पौधे लगाने और एक चारपाई पर किसानों के साथ भोजन करते हुए दिखाया है. उन्होंने वीडियो की एक छोटी क्लिप साझा करते हुए हिंदी में ट्वीट किया, ‘धान की रोपाई, मंजी पर रोटी – किसान हैं भारत की ताकत’.

राहुल ने लिखा, ‘सोनीपत, हरियाणा में मेरी मुलाकात दो किसान भाइयों, संजय मलिक और तसबीर कुमार से हुई. वो बचपन के जिगरी दोस्त हैं, जो कई सालों से एक साथ किसानी कर रहे हैं. उनके साथ मिलकर खेतों में हाथ बटाया, धान बोया, ट्रैक्टर चलाया, और दिल खोलकर कई बातें हुईं. गांव की महिला किसानों ने अपने परिवार की तरह प्यार और सम्मान दिया, और घर की बनी रोटियां खिलाईं.’

टैग: कांग्रेस, हरियाणा समाचार, Rahul gandhi



Source link

Previous articleराजेश खन्ना की 1 झलक पाने को, उनके घर के बाहर खड़ी रहती थीं एक्ट्रेस.. फिर एक दिन जो हुआ, उस पर नहीं होगा यकीन
Next articleप्रोटीन के मामले में 5 वेज फूड के आगे मटन-चिकन भी फेल, हकीकत जान लेंगे तो छोड़ देंगे नॉन-वेज, ये हैं लिस्ट

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here