Home Health & Fitness बाढ़ के दौरान बढ़ जाता है बीमारियों का खतरा, सावधानी रखना बेहद...

बाढ़ के दौरान बढ़ जाता है बीमारियों का खतरा, सावधानी रखना बेहद जरूरी, 7 आसान उपायों से करे परिवार की सुरक्षा

34
0

हाइलाइट्स

बाढ़ के दौरान घर में बना ताजा भोजन करना चाहिए.
बाढ़ के पानी में भींगने पर एंटीसेप्टिक घोल से तुरंत नहाएं.

बाढ़ रोग से कैसे बचें: बारिश का मौसम शुरू हो चुका है. इस मौसम में कई क्षेत्रों में बाढ़ आ गई है. उत्तर भारत में बारिश के कारण कई इलाकों में जलभराव की स्थिति निर्मित हो गई है. हिमाचल प्रदेश, दिल्ली समेत कई जगह बाढ़ आने से लोग बेहद परेशान हैं. दिल्ली की कई सड़कों पर पानी भर चुका है. बाढ़ के समय कई तरह की बीमारियों का खतरा बढ़ जाता है. बाढ़ के पानी के कारण इंफेक्शन, उल्टी, मतली, सिरददर्द, हैजा, मलेरिया, फूड पॉइजनिंग जैसी समस्याओं का सामना करना पड़ता है. इससे बचाव बेहद जरूरी है. आइए आज हम आपको बाढ़ के दौरान या इसके बाद बीमारियों से बचने के उपाय बताते हैं.

1.एंटीसेप्टिक घोल से नहाएं: डब्लूएचओ डॉट आईएनटी में छपी एक खबर के मुताबिक, अगर आप किसी कारण से बाढ़ के पानी में भींग गए हैं तो तुरंत एंटीसेप्टिक घोल को साफ पानी में डालकर नहाना चाहिए. इससे शरीर में चिपके बैक्टीरिया खत्म होंगे.

2.गर्म पानी पिएं: बाढ़ के बाद पानी के प्रदूषण का खतरा बढ़ जाता है, इसलिए जरूरी है कि पानी स्वच्छ और साफ पिए. इसलिए पानी को फिल्टर करने के बाद या गर्म पानी ही पिएं.

3.घर का खाना खाएं: अगर संभव हो तो बाढ़ के समय घर में बना खाना ही खाएं. इस मौसम में बाहर का जंक फूड खाने से बचना चाहिए. अगर कोई ऑनलाइन सामान, फल या सब्जी लाते हैं तो उसे पहले अच्छे से धूल लें.

4.कटे हुए भाग को ढंक कर रखें: अगर आपके शरीर में कहीं चोट लगी है, या कहीं कटा हुआ है तो जब आप बाढ़ में जा रहे हों तो उस भाग को कवर करके जाएं. नहीं तो गंदे पानी से उसमें बैक्टीरिया जा सकते हैं जिससे इंफेक्शन फैलने का खतरा रहता है.

इसे भी पढ़ें- दिमाग को कंप्यूटर से भी तेज करेंगे ये 5 फूड, मेमोरी की पावर को बढ़ाए, कई बीमारियों से भी करे बचाव

5.एडवाइजरी का पालन करें: बाढ़ के पानी के बाद मच्छरों की तादाद बढ़ जाती है. जिसके कारण डेंगू मलेरिया जैसी बीमारियों का खतरा बढ़ जाता है. इसलिए जरूरी है कि मच्छरों से सावधानी रखें साथ ही मलेरिया और डेंगू के लिए जारी एडवाइजरी का पालन करें.

6.घर को अच्छे से साफ करें: अगर बाढ़ का पानी आपके घर या उसकी दीवारों तक आ गया है तो बाढ़ के बाद घर को अच्छे से साफ करें. जिससे बाढ़ की वजह से कोई वैक्टीरिया घर में रहने न पाए.

इसे भी पढ़ें- 40 के बाद भी महिलाओं की हड्डियां रहेंगी लोहे सी मजबूत, डाइट में शामिल करें ये 5 चीजें, शरीर रहेगा फौलादी

7.डॉक्टर से संपर्क: अगर आपको बाढ़ के दौरान या बाढ़ के बाद के बाद सिर दर्द, उल्टी, मतली या स्किन इंफेक्शन जैसे कोई भी समस्या आती है, तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें.

टैग: स्वास्थ्य, स्वास्थ्य लाभ, स्वास्थ्य समाचार, जीवन शैली

Source link

Previous articleपीएम मोदी का फ्रांस दौरा रहा ऐतिहासिक, खुद VIDEO ट्वीट कर दिखाई हर एक पल की झलक
Next article‘बॉलीवुड में नहीं बन रही यादगार फिल्में’, अमीषा पटेल ने उठाए इंडस्ट्री पर सवाल, सालों से दूर होने का खोला राज

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here