Home India Weather Alert: बिहार से बंगाल तक होगी तेज बारिश, इन राज्यों में...

Weather Alert: बिहार से बंगाल तक होगी तेज बारिश, इन राज्यों में आज भी बरसेंगे बादल, जानें दिल्ली समेत देश के मौसम का हाल

37
0

नई दिल्ली: आईएमडी ने आज बिहार, झारखंड, उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल, मेघालय और सिक्किम में अत्यधिक भारी वर्षा की चेतावनी देते हुए रेड अलर्ट जारी किया है. बिहार, असम और मेघालय में भी कल के लिए भारी से बहुत भारी बारिश की चेतावनी वाला ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है. मौसम विभाग (आईएमडी) के अनुसार, दिल्ली के कुछ हिस्सों में आज हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है. इस बीच, यमुना नदी 207.25 मीटर पर बह रही है, जो खतरनाक रूप से 207.49 मीटर के सर्वकालिक रिकॉर्ड स्तर के करीब है. यमुना का जलस्तर 207 मीटर के पार आखिरी बार 1978 में पहुंचा था.

भारी बारिश के कारण अचानक आई बाढ़ ने जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में राष्ट्रीय राजमार्गों को क्षतिग्रस्त कर दिया है. हिमाचल प्रदेश के पर्यटक हिल स्टेशन मनाली में बिजली और पानी कट गया है, जिससे कसोल और उसके आसपास हजारों पर्यटक- जिनमें कई विदेशी नागरिक भी शामिल हैं- फंसे हुए हैं. मौसम विभाग की ओर से दी गई जानकारी के मुताबिक, हिमाचल प्रदेश, हरियाणा, पंजाब और चंडीगढ़ में बारिश की तीव्रता में कमी दर्ज की जाएगी. उत्तराखंड से सटे पश्चिमी उत्तर प्रदेश के इलाकों में मौसम विभाग ने ऑरेंज अलर्ट व पूर्वी उत्तर प्रदेश के इलाकों के लिए येलो अलर्ट जारी किया है. आईएमडी ने उत्तर प्रदेश में भारी से अत्यधिक भारी बरसात के आसार जताए हैं.

निजी मौसम पूर्वानुमान एजेंसी स्काईमेट वेदर के मुताबिक, आज पूर्वोत्तर भारत के इलाकों में भारी से बहुत भारी बारिश होने की संभावना है. वहीं, उत्तराखंड, पश्चिम मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश और बिहार के कुछ हिस्सों में मध्यम से भारी बारिश के साथ कुछ स्थानों पर बहुत भारी बारिश हो सकती है. इसी के साथ, पूर्वी राजस्थान, विदर्भ, झारखंड, ओडिशा, पश्चिमी तट पर भी कुछ अच्छी बारिश हो सकती है. इस बीच, खराब मौसम के कारण तीन दिनों तक निलंबित रहने के बाद अमरनाथ यात्रा 11 जुलाई की दोपहर फिर से शुरू हो गई थी. लेकिन उत्तराखंड के सोनप्रयाग और गौरीकुंड में लगातार भारी बारिश के कारण केदारनाथ यात्रा रोक दी गई है.

मानसून का सही पूर्वानुमान लगाने में विफल रहा मौसम विभाग
उत्तरी भारत इस समय मानसून के अत्यधिक प्रभावी चरण के बीच में है. हिमाचल प्रदेश, हरियाणा, पंजाब, राजस्थान, उत्तराखंड और उत्तर प्रदेश में जुलाई में बारिश सामान्य से काफी अधिक है. भारी बारिश के कारण बड़े पैमाने पर तबाही हुई है और जानमाल की हानि हुई है, खासकर पहाड़ी इलाकों में. इस वर्ष मानसून के सामान्य रहने की उम्मीद थी. शुरुआत निश्चित रूप से उतनी अच्छी नहीं थी, और मौसम विभाग द्वारा सामान्य मानसून की आश्वस्त करने वाली भविष्यवाणियों के बावजूद, अल नीनो के कारण बारिश कम होने की आशंका थी.

मानसून के पहले दो हफ्तों तक, पूरे भारत में 50% से अधिक वर्षा की कमी हो गई थी. देश के उत्तर-पश्चिमी और मध्य भागों में बिपरजॉय चक्रवात के कारण हुई बारिश के कारण जून के अंत तक यह घाटा 8% तक कम हो गया था. देश के अधिकांश हिस्सों में जुलाई अब तक बेहद गीला रहा है. कुल मिलाकर, भारत में जुलाई में उम्मीद से 26% अधिक बारिश हुई है, जिससे अब तक सीजन की पूरी कमी को पूरा करने में मदद मिली है. लेकिन उत्तरी राज्यों – हिमाचल प्रदेश, दिल्ली, पंजाब, राजस्थान, उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड में बारिश ने जमकर तबाही मचाई है.

टैग: मानसून अपडेट, वर्षा अद्यतन, मौसम अपडेट

(टैग्सटूट्रांसलेट)मौसम पूर्वानुमान(टी)आज का मौसम अपडेट(टी)13 जुलाई 2023 मौसम(टी)आईएमडी मौसम चेतावनी(टी)बारिश की भविष्यवाणी(टी)दिल्ली बारिश(टी)यमुला जल स्तर(टी)हिमाचल बाढ़(टी)ब्यास नदी (टी)जम्मू-कश्मीर मौसम(टी)उत्तराखंड मौसम चेतावनी(टी)उत्तर प्रदेश मौसम समाचार(टी)बिहार मौसम समाचार(टी)हिमाचल प्रदेश मौसम समाचार(टी)उत्तराखंड मौसम समाचार(टी)उत्तर भारत मौसम समाचार

Source link

Previous articleWeather Rain Flood Alert: पहाड़ से लेकर मैदान तक हर तरफ पानी ही पानी, दिल्ली में 45 साल बाद आएगा बाढ़? हिमाचल-उत्तराखंड का हुआ बुरा हाल
Next articleबड़ी खबर | स्पीड न्यूज़ | आज की प्रमुख सुर्खियाँ | 13 जुलाई 2023 | आज की ताजा खबर

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here