Home Health & Fitness कभी खाकर देखिए ये पहाड़ी लाल फल, पोषक तत्वों का है खजाना,...

कभी खाकर देखिए ये पहाड़ी लाल फल, पोषक तत्वों का है खजाना, पाचन तंत्र करे मजबूत, जानें 5 जबरदस्त सेहत लाभ

41
0

हाइलाइट्स

काफल फल में एंटी-बैक्टीरियल, एंटी-माइक्रोबियल तत्व होते हैं, जो सर्दी-जुकाम, खांसी दूर करते हैं.
डायरिया, अपच आदि समस्याओं को ठीक करने में भी बेजोड़ है काफल फल.

काफल फल के फायदे: कई तरह के फलों का सेवन आप करते होंगे, लेकिन क्या आपने कभी काफल (Kafal)का नाम सुना है या इस फल को खाया है? अगर नहीं खाया तो बता दें कि काफल एक पहाड़ी फल है, जो मुख्य रूप से उत्तराखंड में मिलता है. कभी उत्तराखंड जाएं तो इसका स्वाद जरूर चख कर देखें. इस राज्य का यह प्रसिद्ध फल है, जिसे यहां के लोग बेहद चाव से खाते हैं. काफल एक छोटे आकार का बेरी जैसा फल है, जो गोल और लाल, गुलाबी रंग का होता है. इसका स्वाद मीठा और बहुत ही रसीला होता है. इस फल में कई तरह के औषधीय गुण मौजूद होते हैं. गर्मी के मौसम में पहाड़ी लोग काफल का सेवन खूब करते हैं. आइए जानते हैं काफल खाने के फायदों (Benefits of Kafal) के बारे में.

काफल फल खाने के फायदे

1.टीओआई में छपी एक खबर के अनुसार, काफल में कई औषधीय गुण होते हैं और उत्तराखंड में इस फल का इस्तेमाल आयुर्वेद में कई तरह की दवाएं बनाने के लिए किया जाता है. इसमें एंटी-अस्थमा से भरपूर प्रॉपर्टीज होती हैं, जो अस्थमा से ग्रस्त लोगों को बेहद लाभ पहुंचाता है.

इसे भी पढ़ें: किसी चमत्कार से कम नहीं हैं ये हरे-काले फल, कैंसर, मोटापे जैसी 4 बीमारियों में कारगर, इम्यूनिटी भी होगी बूस्ट

2. इस फल में एंटीऑक्सीडेंट तत्व भरपूर मात्रा में होता है, जो कई तरह की समस्याओं जैसे डायरिया, अल्सर, जलन, सूजन, गले में खराश, अपच, एनीमिया, बुखार आदि को दूर कर सकता है. यहां तक की इसके पेड़ के छाल, फूल, बीज आदि भी बेहद फायदेमंद होते हैं. छाल एंटी-एलर्जिक होते हैं, जो कई तरह की एलर्जी का इलाज करने में इस्तेमाल होता है. पाचन तंत्र को दुरुस्त रखने के लिए आप काफल का सेवन कर सकते हैं.

3. काफल के पेड़ का छाल दांतों के दर्द को भी दूर करने में कारगर है. छाल को दांतों से 2-3 मिनट चबाने से दर्द कम हो सकता है. ऐसे में आपको दांतों से संबंधित समस्या है तो ये फल लाभदायक हो सकता है.

4. यदि आपको स्ट्रेस, चिंता की समस्या लगातार बनी रहती है तो इसके लक्षणों को कंट्रोल करने के लिए भी काफल का सेवन करना फायदेमंद है. इसमें तनाव को कम करने वाले तत्व मौजूद होते हैं, जो मानसिक समस्याएं जैसे अवसाद, चिंता, तनाव आदि के लक्षणों को कम कर देते हैं.

5. यदि आपका खांसी, सर्दी-जुकाम की समस्या हो तो आप काफल खा सकते हैं. इसमें एंटी-बैक्टीरियल और एंटी-माइक्रोबियल तत्व होते हैं, जो इन समस्याओं को दूर करने में बेहद कारगर होते हैं. इसकी छाल से बने चूर्ण के सेवन से खांसी, गले में खराश, दर्द आदि को कम कर सकते हैं.

टैग: स्वस्थ खाएं, स्वास्थ्य, जीवन शैली, नया चलन में है

Source link

Previous articleजब शोले के क्लाइमैक्स में जय की हुई मौत, रोती राधा को देख संजीव कुमार भूले ‘ठाकुर’ के हाथ का हाल, बोले- मैं उसे…
Next articleदादा सुभाष चंद्र की आर्मी से आजादी के लिए लड़े, अब पाेता टीम इंडिया से खेलने को तैयार, धोनी की तरह है खतरनाक

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here