Home Film Review Blind Review: सोनम कपूर का जबरदस्त कमबैक, पढ़िए- कैसी है क्राइम-थ्रिलर ‘ब्लाइंड’

Blind Review: सोनम कपूर का जबरदस्त कमबैक, पढ़िए- कैसी है क्राइम-थ्रिलर ‘ब्लाइंड’

151
0

मुंबईः सोनम कपूर लंबे समयसे बड़े पर्दे से गायब थीं, लेकिन अब उन्होंने डिजिटल स्पेस के साथ जबरदस्त वापसी की है. वह भी बिना किसी शोर शराबे के. सोनम कपूर स्टारर क्राइम थ्रिलर ‘ब्लाइंड’ बड़े पर्दे के बजाय सीधे ओटीटी प्लेटफॉर्म पर रिलीज हो चुकी है. चार साल बाद सोनम कपूर की कोई फिल्म दर्शकों को देखने मिल रही है, वह भी सीधा ओटीटी पर. शोम मखीजा के निर्देशन में बनी इस फिल्म में सोनम कपूर के साथ पूरब कोहली भी ली अहम रोल में हैं. ब्लाइंड एक थ्रिलर फिल्म है, जिसकी कहानी स्कॉटलैंड में स्थापित की गई है.

फिल्म की स्ट्रीमिंग के साथ ही सोनम कपूर के फैंस जरा हैरान हैं. क्योंकि, एक्ट्रेस ने फिल्म का प्रमोशन भी नहीं किया है. ऐसे में इस सरप्राइज ने सभी को हैरानी में डाल दिया है. थ्रिलर फिल्मों का सबसे बड़ा चैलेंज होता है, फिल्म में रोमांच बनाए रखना. इसमें मेकर्स कितने सफल हुए हैं, चलिए जानते हैं.

क्या है ब्लाइंड की कहानी?
फिल्म की कहानी शुरू होती है स्कॉटलैंड से. पुलिस ऑफिसर जिया सिंह (सोनम कपूर) अपने भाई एड्रियन (दानेश रजवी) को एक क्लब लेकर निकलती है, क्योंकि उसके एग्जाम हैं और वह पार्टी कर रहा होता है. एड्रियन और जिया अनाथ हैं, जिन्हें मरिया (लिलिट दुबे) ने गोद लिया है. एड्रियन रैपर बनना चाहता है, इसलिए वह पढ़ाई छोड़कर क्लब वापस जाना चाहता है, लेकिन जिया उसे रोकने के लिए हथकड़ी से बांध देती है.

हथकड़ी की चाबी लेने के चलते कार में जिया और एड्रियन की झड़प होती है और कार का एक्सीडेंट हो जाता है, जिसमें जिया अपनी आंखें और अपने छोटे भाई को खो देती है. इससे जिया की जिंदगी में अंधेरा छा जाता है. भाई की मौत का सदमा झेल रही जिया के पास अब नौकरी भी नहीं है. एक रात जिया अपनी मां से मिलने जाती है. जब वह अपनी मां से मिलकर वापस आ रही होती है, उसे एक टैक्सी ड्राइवर के रूप में साइको किलर (पूरब कोहली) मिल जाता है.

” isDesktop=’true’ id=’6791433′ >

किलर खुद को टैक्सी ड्राइवर बताता है और जिया को अपनी कार में बैठाता है. रास्ते में झड़प होती है और वह किसी तरह बचकर किलर के कब्जे से भाग निकलती है. जिया किसी तरह पुलिस के पास पहुंचती है, लेकिन उसे खास फायदा नहीं मिलता. पुलिस ऑफिसर पृथ्वी (विनय पाठक) किसी तरह जिया की बात मानता है और मामले की जांच शुरू करता है. लेकिन, उसे नहीं पता कि जिस किलर को वो ढूंढ रहे हैं वह कितना खतरनाक और चालाक है. इसके बाद जिया और किलर में ये खींच-तान पर्सनल हो जाती है. आगे क्या होता है, जिया को इस किलर से छुटकारा मिलता है या नहीं ये देखने के लिए फिल्म देखिए.

डायरेक्शन
डायरेक्टर शोम मखीजा ने ‘ब्लाइंड’ बनाई है, जिसकी लोकेशन भी अच्छी है और स्करीनप्ले भी. सस्पेंप और मिस्ट्री से भरी ब्लाइंड आपको अंत तक अंधेरे में ही रखेगी. हालांकि, ये साइको किलर कैसे साइको किलर बन जाता है, इसके पीछे की कहानी इस फिल्म में बयां नहीं की गई है. ऐसे में ये थोड़ी फ्लेट लगती है. सोनम कपूर ने कंफर्ट जोन से बाहर निकलकर कुछ नया करने की कोशिश की है और उम्मीद है कि अपने रोल से दर्शकों को इंप्रेस कर पाएंगी. ब्लाइंड की कहानी में दम है, लेकिन फिर भी थोड़ी ढीली पड़ती है.

डिटेल्ड रेटिंग

कहानी :
स्क्रिनप्ल :
डायरेक्शन :
संगीत :

टैग: बॉलीवुड, बॉलीवुड फिल्में, मनोरंजन, सोनम कपूर

(टैग्सटूट्रांसलेट)ब्लाइंड(टी)ब्लाइंड रिव्यू(टी)सोनम कपूर(टी)सोनम कपूर ब्लाइंड रिव्यू(टी)ब्लाइंड मूवी(टी)ब्लाइंड मूवी रिव्यू(टी)ब्लाइंड मूवी रिव्यू हिंदी में(टी)सोनम कपूर फिल्म(टी)पूरब कोहली फिल्म(टी)ब्लाइंड मूवी कास्ट(टी)ब्लाइंड मूवी 2023 समीक्षा(टी)ब्लाइंड मूवी बॉलीवुड(टी)ब्लाइंड मूवी 2023 रेटिंग

Source link

Previous articleमिथुन से लेकर गोविंदा तक, 12 एक्टर ने ठुकराया था ‘ठाकुर भानू प्रताप’ का किरदार, कैसे अमिताभ बच्चन को मिली ‘सूर्यवंशम’
Next articleबारिश के दिनों में मिलने वाली यह सब्जी ताकत से है भरपूर! मौसमी बीमारियां रखती है दूर, मिलते हैं गजब के फायदे

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here