Home Health & Fitness डायबिटीज के मरीजों को ड्राई फ्रूट खाना चाहिए या नहीं? क्या कहता...

डायबिटीज के मरीजों को ड्राई फ्रूट खाना चाहिए या नहीं? क्या कहता है विज्ञान, जानें सब कुछ

40
0

हाइलाइट्स

जिन चीजों में शुगर की मात्रा ज्यादा होती है, उनसे डायबिटीज के मरीजों में ब्लड शुगर तुरंत बढ़ जाता है.
बादाम, पिश्ता, अखरोट जैसे ड्राई फ्रूट का ग्लाइसेमिक इंडेक्स बहुत कम होता है.

मधुमेह रोगियों के लिए सूखे मेवे: शिथिल जीवनशैली और गलत खान-पान लाइफस्टाइल से संबंधित कई बीमारियों के जोखिम को बढ़ाने लगा है. इनमें डायबिटीज का नंबर एक है. आज देश में करीब 8 करोड़ से ज्यादा लोग डायबिटीज के शिकार हैं. आंकड़ों 2045 तक भारत में 13.5 करोड़ लोगों के डायबेटिक होने का खतरा है. यही कारण है कि भारत को डायबेटिक कैपिटल ऑफ वर्ल्ड कहा जाने लगा. डायबिटीज तब होता है जब हम व्यायाम नहीं करते, शरीर को शिथिल बना देते हैं और गलत चीजों का सेवन करने लगते हैं. इन सबसे पैंक्रियाज में इंसुलिन कम बनने लगता है.

इंसुलिन भोजन से कार्बोहाइड्रैट को अवशोषित करने के लिए जरूरी है. यही भोजन से शुगर या कार्बोहाइड्रैट को निकाल कर इसे एनर्जी में बदल देता है. जब इंसुलिन कम बनता है तो शुगर खून की नलियों में घुसने लगती है जिससे आंख, किडनी, हार्ट जैसे महत्वपूर्ण अंगों को नुकसान पहुंचता है. ऐसे में डायबिटीज के मरीज क्या खाते हैं, यह शुगर के लिए बहुत महत्वपूर्ण है. अगर ज्यादा शुगर वाली कोई चीज खा लेता है तो ब्लड शुगर तुरंत बढ़ जाता है. इसलिए लोगों को अक्सर ड्राई फ्रूट खाने पर कंफ्यूजन रहता है.

किस ड्राई फ्रूट में शुगर की मात्रा होती है कम
जिन चीजों में शुगर की मात्रा ज्यादा होती है, उनसे डायबिटीज के मरीजों में ब्लड शुगर तुरंत बढ़ जाता है. ऐसे में सवाल उठता है कि क्या ड्राई फ्रूट्स में शुगर की मात्रा ज्यादा रहती है. मेडिकल न्यूजटूडे के मुताबिक किस चीज में शुगर की मात्रा कितनी है, इसके ग्लाइसेमिक इंडेक्स बनाया गया है. यानी जिस चीज में जितनी अधिक शुगर की मात्रा होगी, उसका जीआई उतना ही ज्यादा होगा. अगर किसी फूड का जीआई स्कोर 70 से 100 के बीच है तो इसका मतलब है कि उसमें शुगर की मात्रा ज्यादा है. आमतौर पर फ्रूट्स का जीआई स्कोर कम होता है लेकिन कुछ फ्रूट्स का जीआई स्कोर ज्यादा होता है जैसे केला और तरबूज. उसी तरह ड्राई फ्रूट्स का जीआई स्कोर भी देखा जाता है. रिपोर्ट के मुताबिक अधिकांश अधिकांश ड्राई फ्रूट्स खाने से ब्लड शुगर नहीं बढ़ता है.

कितनी मात्रा में खानी चाहिए
पब मेड सेंट्रल जर्नल में छपी एक रिपोर्ट में अध्ययन के हवाले से बताया गया है कि कुछ ड्राई फ्रूट ऐसे होते हैं जिसका सेवन करने से ब्लड शुगर कम ही होता है. इस तरह के ड्राई फ्रूट का सेवन टाइप 2 डायबिटीज के मरीजों को करना चाहिए. अध्ययन में बादाम और कुछ ड्राई फूट्स और ब्लड शुगर घटाने के बीच सकारात्मक संबंध पाया गया है. अमेरिकन डायबेट्स एसोसिएशन ने अध्ययन के आधार पर अपने गाइडलाइन में पाया है कि डायबिटीज मरीजों के लिए ड्राई फ्रूट बेहतर विकल्प है. हालांकि फायदों के बावजूद ड्राई फ्रूट का सीमित मात्रा में सेवन करना चाहिए.

एक दिन में ड्राई फ्रूट का ज्यादा सेवन नहीं करना चाहिए. बादाम, पिश्ता, अखरोट जैसे ड्राई फ्रूट का ग्लाइसेमिक इंडेक्स बहुत कम होता है. यह ब्लड शुगर को कंट्रोल करने के साथ-साथ हार्ट हेल्थ को भी मजबूत करता है. हालांकि गाइडलाइन में यह भी कहा गया है कि जिस ड्राई फ्रूट में एडेड शुगर हो, उसका सेवन नहीं करना चाहिए. डिब्बाबंद ड्राई फ्रूट से भी परहेज करना चाहिए.

इसे भी पढ़ें-क्या डायबिटीज मरीजों को अचार नहीं खाना चाहिए? क्या इससे बढ़ जाता है ब्लड शुगर, एक्सपर्ट से जानिए हकीकत

इसे भी पढ़ें-इन 5 खतरनाक फूड को जिंदगी से कर देंगे बाहर तो कभी नहीं बढ़ेगा ब्लड शुगर, हेल्थ के लिए दुश्मन हैं ये, देखें लिस्ट

टैग: मधुमेह, स्वास्थ्य, स्वास्थ्य सुझाव, जीवन शैली

(टैग्सटूट्रांसलेट)लाइफस्टाइल(टी)ड्राई फ्रूट्स(टी)सुखे मेवे खाने के तरीके(टी)किशमिश(टी)अखरोट(टी)ड्राई फ्रूट के हैं लाभ(टी)डायबिटिक(टी)शुगर लेवल और लाइफस्टाइल(टी)स्वास्थ्य टिप्स और ट्रिक्स(टी)घरेलू उपाय(टी)ब्लड शुगर के लिए स्वास्थ्य युक्तियाँ(टी)घरेलू उपाय(टी)खजूर और दूध(टी)सुखे मेवे(टी)सूखे मेवे(टी)सूखे मेवे के फायदे क्या हैं(टी)मधुमेह(टी) )मधुमेह समुद्र तट के लिए भोजन(टी)ड्राई के उदाहरण डायबिटीज(टी)प्री डायबिटीज(टी)डायबिटीज शुगर(टी)डायबिटीज मेलिटस(टी)डायबिटीज के लक्षण(टी)डायबिटीज क्या है(टी)डायबिटीज रोगी(टी)डायबिटीज इन हिंदी( टी) रक्त शर्करा (टी) सामान्य रक्त शर्करा (टी) उपवास रक्त शर्करा (टी) एचबी1एसी परीक्षण (टी) खाद्य पदार्थ टाइप 2 मधुमेह के खतरे को बढ़ा सकते हैं (टी) टाइप -2 मधुमेह के जोखिम कारक (टी) मधुमेह आहार (टी) मधुमेह नियंत्रण(टी)रक्त शर्करा नियंत्रण(टी)रक्त शर्करा स्तर की सामान्य सीमा क्या है(टी)डॉ पारस अग्रवाल(टी)मधुमेह(टी)ब्लड शुगर(टी)ब्लेड शुगर लेवल(टी)कितना होना चाहिए ब्लड शुगर लेवल

Source link

Previous articleऐसा निजी अस्पताल…जहां मात्र 11 रुपये में होता है इलाज! यहां के सभी डॉक्टर MBBS, MD
Next articleक्या सब्जियों को उबालने से गायब हो जाते हैं न्यूट्रिशन? पोषक तत्वों को बचाने का क्या है सही तरीका? यहां जानें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here