Home World रूस में होगा तख्तापलट? भाड़े के सैनिक ‘वैगनर ग्रुप’ का सशस्त्र विद्रोह,...

रूस में होगा तख्तापलट? भाड़े के सैनिक ‘वैगनर ग्रुप’ का सशस्त्र विद्रोह, सरकार ने कहा- पीठ में छुरा घोंपा

33
0

हाइलाइट्स

रूस में बढ़ी तख्तापलट की आशंका.
‘वैगनर ग्रुप’ के प्रमुख येवगेनी प्रिगोझिन ने सशस्त्र विद्रोह का आह्वान किया.
वैगनर ग्रुप के सैनिक मॉस्को की ओर बढ़े.

मास्को: लंबे समय से चल रहे यूक्रेन युद्ध (Russia Ukraine War) के बीच रूस से एक चौंकाने वाली खबर सामने आ रही है. आश्चर्यजनक रूप से बढ़ती अंदरूनी कलह में, रूस (Russia) ने भाड़े के सैनिक ‘वैगनर ग्रुप’ के प्रमुख येवगेनी प्रिगोझिन (Yevgeny Prigozhin) पर सशस्त्र विद्रोह का आह्वान करने का आरोप लगाया है. प्रिगोझिन ने शनिवार को कहा कि उनके लोग यूक्रेन से रूस की सीमा पार कर गए हैं और रूसी सेना के खिलाफ ‘हर हद तक’ जाने के लिए तैयार हैं.

TASS न्यूज एजेंसी ने कहा कि जैसे ही येवगेनी प्रिगोझिन और सैन्य शीर्ष अधिकारियों के बीच लंबे समय से चल रहा गतिरोध चरम पर पहुंच गया, रूस की एफएसबी सुरक्षा सेवा ने उसके खिलाफ एक आपराधिक मामला खोल दिया है. सुरक्षा सेवा ने वैगनर निजी सैन्य कंपनी बलों से येवगेनी प्रिगोझिन के आदेशों की अनदेखी करने और उसे गिरफ्तार करने का आह्वान किया है. क्रेमलिन द्वारा प्रिगोझिन पर सशस्त्र विद्रोह का आह्वान करने का आरोप लगाने के कुछ ही समय बाद यह कदम उठाया गया.

पढ़ें- PM Modi US Visit: पीएम मोदी ने भारतवंशियों को दी H-1B वीजा को लेकर बड़ी खुशखबरी, उनके भाषण की 10 बड़ी बातें

सीबीसी न्यूज की रिपोर्ट के मुताबिक सोशल मीडिया पर अक्सर वैगनर निजी सैन्य टुकड़ी के प्रमुख के रूप में युद्ध में उनकी सीमित भूमिका को झुठलाया जाता है, महीनों से खुलेआम रक्षा मंत्री सर्गेई शोइगु और रूस के शीर्ष जनरल वालेरी गेरासिमोव पर रैंक की अक्षमता और उनकी सेना को गोला-बारूद देने से इनकार करने का आरोप लगा रहे हैं.

‘रूसी सैनिकों की पीठ में छुरा घोंपा’
येवगेनी प्रिगोझिन ने रूसियों से उनकी सेना में शामिल होने और पिछले साल यूक्रेन में आक्रामक शुरुआत के बाद से राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन (Vladimir Putin) के लिए सबसे साहसी चुनौती में मॉस्को के सैन्य नेतृत्व को दंडित करने का आग्रह किया. एक बयान में एफएसबी ने कहा ‘प्रिगोझिन के बयान और कार्य वास्तव में रूसी संघ के क्षेत्र पर एक सशस्त्र नागरिक संघर्ष शुरू करने का आह्वान है और फासीवाद समर्थक यूक्रेनी ताकतों से लड़ने वाले रूसी सैनिकों की पीठ में छुरा घोंपना है.’

क्रेमलिन ने कहा कि पुतिन को प्रिगोझिन के दावों के बारे में सूचित कर दिया गया है और आवश्यक उपाय किए जा रहे हैं. प्रिगोझिन ने पहले कहा था कि सेना के जनरल स्टाफ के प्रमुख जनरल वालेरी गेरासिमोव के आदेश पर वैगनर फील्ड शिविरों पर रॉकेट, हेलीकॉप्टर गनशिप और तोपखाने की आग से हमला किया गया था.

येवगेनी प्रिगोझिन ने सशस्त्र विद्रोह का आह्वान किया
शनिवार तड़के, येवगेनी प्रिगोझिन ने एक टेलीग्राम पोस्ट में कहा कि उनके लोग यूक्रेन से दक्षिणी रूस की सीमा पार कर गए हैं और रूसी सेना के खिलाफ हर तरह से जाने के लिए तैयार हैं. उन्होंने कहा कि वह और उनके लोग उनके रास्ते में आने वाले किसी भी व्यक्ति को नष्ट कर देंगे. उन्होंने कहा कि ‘हम आगे बढ़ रहे हैं और अंत तक आगे बढ़ेंगे.’ प्रिगोझिन ने क्रेमलिन को अपनी सीधी चुनौती देते हुए शुक्रवार (स्थानीय समय) को रूस के रक्षा मंत्री को हटाने के उद्देश्य से सशस्त्र विद्रोह का आह्वान किया.

टैग: रूस, व्लादिमीर पुतिन

Source link

Previous articleIsrael-Palestine Conflict: इजराइल-फिलिस्तीन के बीच थम नहीं रहा खूनी संघर्ष, 18 की मौत, मस्‍ज‍िद में घुसकर कुरान फाड़ा
Next articlePHOTOS: पुतिन का ‘यार’ निकला गद्दार! कौन है येवगेनी प्रिगोझिन? जिसने रूसी राष्ट्रपति के खिलाफ फूंक दिया बगावत का बिगुल

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here